MP E Uparjan 2022 E Uparjan MP Registration

किसान ऑनलाइन पंजीकरण | एमपी ई उपनगरीय ऑनलाइन आवेदन | mpeuparjan.nic.in पोर्टल | e uparjan mp registration किसान पंजीकरण

सरकार किसानों को वैसे ही विशेषाधिकार दे रही है जैसे वे किसानों को मजबूत और आत्मनिर्भर बनाना चाहते हैं। इससे किसानों की आय में वृद्धि होगी और किसानों द्वारा उगाई गई उपज का सही मूल्य मिलेगा। एमपी ई सुबर्जन पोर्टल मध्य प्रदेश सरकार द्वारा लॉन्च किया गया है। सभी किसान जो अपनी फसल सरकार को समर्थन मूल्य पर बेचना चाहते हैं, वे इस पोर्टल पर पंजीकरण कराएं। इस लेख के माध्यम से आपको पंजीकरण के संबंध में पूरी जानकारी मिल जाएगी। इसके अलावा, आपको मध्य प्रदेश ई-प्रोक्योरमेंट पोर्टल से संबंधित अन्य जानकारी जैसे उद्देश्य, लाभ, सुविधाएँ, योग्यता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन की स्थिति, पावती पर्ची प्राप्त करने की प्रक्रिया, तहसीलदार लॉगिन, आदि भी प्राप्त होते हैं। इसलिए यदि आप एमपीई उपनगरीय पोर्टल पर पंजीकरण की प्रक्रिया जानना चाहते हैं, तो आपको हमारा यह लेख पढ़ने की आवश्यकता नहीं है।

Contents hide
3 ई उपार्जन पोर्टल किसान ऑनलाइन पंजीयन

MP ई स्टोरेज पोर्टल 2022

2022 किसानों के लिए एमपी ई सुबर्जन लॉन्च किया गया राज्य सरकार ने मध्य प्रदेश के उन किसानों के लिए इस पोर्टल पर पंजीकरण प्रक्रिया शुरू कर दी है जो खरीफ सीजन के दौरान अपनी फसल सरकार को बेचना चाहते हैं। राज्य के सभी इच्छुक किसान जो सरकार द्वारा प्रायोजित समर्थन मूल्य पर अपनी फसल बेचना चाहते हैं, वे इस पोर्टल के साथ पंजीकरण कर सकते हैं।

एमपी ई उपार्जन कवरेज प्लैन्ड

मध्य प्रदेश सरकार ने एमपीई खरीद के तहत पूरे मध्य प्रदेश को कवर करने की योजना बनाई है। इसके लिए मध्य प्रदेश के हर जिले में अनाज, गेहूं और चावल पर नजर रखी जा रही है. मध्य प्रदेश में 2830 क्रय केंद्र, 708 धावक और 2830 डाटा एंट्री ऑपरेटर हैं। मध्य प्रदेश की देखरेख में धान क्रय प्रणाली में 795 क्रय केंद्र, 199 रनर और 795 डाटा एंट्री ऑपरेटर हैं, जिसमें 4250 किसान प्रतिदिन अपनी फसल बेच रहे हैं।

ई उपार्जन पोर्टल किसान ऑनलाइन पंजीयन

आपको बता दें कि एमपीई प्रोक्योरमेंट पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया ऑनलाइन की गई थी। इस बार सिर्फ ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन होगा। लेकिन इस बार रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया में कुछ बदलाव किए गए हैं। पिछले साल एमपीई खरीद ऑनलाइन पंजीकरण केवल कृषि उपज मंडी के माध्यम से किया गया था, जिससे कई किसानों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा है। लेकिन इस साल मध्य प्रदेश सरकार ने इंटरनेट पोर्टल पर घर बैठे सभी किसानों के लिए पंजीकरण की सुविधा प्रदान की है।

Key Highlights Of MP E Uparjan 2022

योजना का नामएमपी ई उपार्जन
किसने शुरू कीमध्य प्रदेश सरकार
लाभार्थीमध्य प्रदेश के किसान
उद्देश्यसमर्थन मूल्य पर फसल बेचने के लिए आवेदन करना
आधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें
साल2022

MP E Uparjan 2022 का उद्देश्य

पिछले साल कृषि मंडी के दौरान की गई ऑनलाइन प्रक्रिया के कारण मध्य प्रदेश के किसानों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है और कई किसान पंजीकरण नहीं करा पा रहे हैं. इससे उन्हें समर्थन मूल्य से कम पर अपनी फसल बेचनी पड़ी। इससे किसानों को काफी नुकसान हुआ है। मध्य प्रदेश सरकार ने किसानों की इस समस्या को समझते हुए एमपीई प्रोक्योरमेंट पोर्टल के माध्यम से पंजीकरण प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया है. इस वर्ष प्रदेश के किसान ई-उपार्जन पोर्टल पंजीकरण केन्द्रों पर ई-उपार्जन के लिए पब्लिक डोमेन में अपना पंजीकरण करा सकेंगे। इससे उनके समय और पैसे दोनों की बचत होती है।

एमपी ई उपार्जन उपलब्ध सेवाएं

स्टेट यूजर

मुख्यमंत्री कार्यालयमुख्य सचिव कार्यालय
खाद्य मंत्रीमध्य प्रदेश स्टेट सिविल सप्लाई कॉरपोरेशन (वित्त)
मुख्य सचिव कार्यालयसंचालक कृषि
कृषि उत्पादन आयुक्तआयुक्त भू अभिलेख
प्रमुख सचिव कोऑपरेटिवनाफेड
प्रमुख सचिव कृषिअपेक्स बैंक
प्रमुख सचिव खाद्यमंडी बोर्ड
प्रमुख सचिव वित्तमध्य प्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ
प्रमुख सचिव राजस्वमध्य प्रदेश राज्य सहकारी विपणन संघ (वित्त)
सचिव खाद्यभारतीय खाद्य निगम
आयुक्त खादमध्य प्रदेश वेयरहाउसिंग एंड लॉजिस्टिक्स कॉरपोरेशन
कपासपब्लिक रिलेशन
रजिस्ट्रार कोऑपरेटिव सोसायटी
मध्य प्रदेश स्टेट सिविल सप्लाई कॉरपोरेश
 

डिस्ट्रिक्ट यूजर

आयुक्त संभागडीआर को –ऑपरेटिव
कलेक्टरप्रबंधक भारतीय खाद्य निगम
एसडीएमसिंचाई विभाग
एसडीओ फॉरेस्टजिला केंद्रीय सहकारी बैंक
रीजनल मैनेजर (एम पी एस सी सी)कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक
जोनल मैनेजर मार्कफेडडीआईओ
जिला मैनेजर (एम पी एस सी सी)सीईओ जिला पंचायत
डीएमओ (मार्कफेड)उप संचालक कृषि
Adur User
पंजीयन केंद्रएडमिनिस्ट्रेटर
पंजीयन केंद्र किओस्कडाटा क्लीनिंग
तोल काटा विभागकॉल सेंटर
समितिजिला केंद्रीय सहकारी ब्रांच
तहसीलदारएसबीआई बैंक खाता सत्यापन

मध्य प्रदेश ई उपार्जन पोर्टल 2022 के लाभ तथा विशेषताएं

इस पोर्टल में राज्य के लोग अपने कंप्यूटर या मोबाइल के माध्यम से आसानी से घर बैठे ऑनलाइन पंजीकरण कर सकते हैं।
इस योजना का लाभ राज्य के सभी किसान उठा सकते हैं।
राज्य के किसान भी मोबाइल ऐप डाउनलोड करके इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
मध्य प्रदेश के ई-प्रोक्योरमेंट पोर्टल 2022 के माध्यम से किसानों को पंजीकरण करने में कोई परेशानी नहीं है।
ऑनलाइन पोर्टल जोड़ने से लोगों का समय बचेगा।
न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर गेहूं बेचने के लिए, किसानों को अनाज के साथ अनाज की खरीद के लिए तीन तिथियां भी निर्दिष्ट करनी होंगी।

मध्य प्रदेश ई-उपार्जन पोर्टल 2022 पंजीकरण के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश

मध्य प्रदेश के किसान जो इस ई-प्रोक्योरमेंट पोर्टल पर पंजीकरण करना चाहते हैं, तो हमें निम्नलिखित में से कुछ पर ध्यान देने की आवश्यकता है।

इस वर्ष मध्य प्रदेश के सभी किसान अपने आधार कार्ड नंबर और विस्तृत आईडी से पंजीकरण करा सकते हैं।
यदि आपके पास एक व्यापक आईडी नहीं है तो आप एमपीई उपनगरीय पोर्टल के साथ पंजीकरण नहीं कर सकते हैं, जिसके लिए आपको पहले व्यापक आईडी के लिए आवेदन करना होगा।
पंजीकरण के लिए आधार या एकीकृत आईडी होना अनिवार्य है।
आवेदकों को ऑनलाइन पंजीकरण के समय आवेदक द्वारा दर्ज की गई बैंक खाते की जानकारी को सत्यापित करना चाहिए।
मध्य प्रदेश ई-प्रोक्योरमेंट पोर्टल 2022 में रजिस्ट्रेशन के लिए मोबाइल नंबर होना अनिवार्य है। इस रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए आपको अपने मोबाइल नंबर को आधार से लिंक करना होगा।
रजिस्ट्रेशन के बाद आपको एक रसीद दी जाएगी, आप इसे अपने पास सुरक्षित रख लें। पंजीकरण के बाद, पावती को प्रिंट करना और खरीद के समय पावती रखना अनिवार्य है।

एमपी ई उपार्जन 2022 पंजीकरण के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • आवेदक की  समग्र आईडी
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आधार कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • ऋणपुस्तिका
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

एमपी ई उपार्जन प्रोसेस

एमपी ई कमाई के तहत 6 स्तर हैं। इन 6 चरणों में किसानों से सामान खरीदना, बेचना और शिपिंग करना शामिल है। इन 6 चरणों में से कुछ इस प्रकार हैं: –

किसानों को पहले क्रय केंद्र पर जाना होगा। किसानों को पंजीकरण केंद्र पर जाकर पंजीकरण करना होगा।
पंजीकरण के बाद, किसानों को एक पंजीकरण कोड प्रदान किया जाएगा।
इसके बाद किसानों को एसएमएस भेजकर गेहूं खरीद की तारीख की जानकारी दी जाएगी।
किसान देय तिथि पर एसएमएस द्वारा क्रय केंद्र पर जाएं।
उसके बाद, किसानों से गेहूं खरीदा जाता है और इस खरीद के प्रमाण के रूप में रसीद दी जाती है।
इसके बाद गेहूं की खरीद की राशि किसान के खाते में बांट दी जाएगी।

MP E Uparjan 2022 पोर्टल पर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

यदि आप एमपीई उपनगरीय पोर्टल पर पंजीकरण करना चाहते हैं तो आपको नीचे दी गई प्रक्रिया का पालन करना होगा।
सबसे पहले आपको एमपीई प्रोक्योरमेंट पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
अब आपके सामने होमपेज खुल जाएगा।
इस होमपेज पर आपको रबी 2021-2022 का विकल्प दिखाई देगा, आपको इस विकल्प पर क्लिक करना चाहिए। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा।
आपको किसान पंजीकरण / आवेदन खोज विकल्प दिखाई देगा, आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा।
आपको इस पेज पर फॉर्म दिखाई देगा, आपको किसान का नाम, मोबाइल नंबर और इस फॉर्म पर मांगी गई समग्र आईडी जैसी सभी जानकारी भरनी होगी।
इसके बाद आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा।
इस तरह आपकी आवेदन प्रक्रिया सफलतापूर्वक संपन्न हो जाती है।

एमपी ई उपार्जन आवेदन स्थिति जानने की प्रक्रिया

सबसे पहले आपको एमपीई प्रोक्योरमेंट पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
अब आपके सामने होमपेज खुल जाएगा।
इस होमपेज पर आपको खरीफ 2020-21 के लिंक पर क्लिक करना होगा।
अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
आपको इस पेज पर किसान पंजीकरण / आवेदन खोज लिंक पर क्लिक करना चाहिए।
इससे आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको आवेदन संख्या दर्ज करनी होगी।
अब आपको सर्च बटन पर क्लिक करना है।
आपके आवेदन की स्थिति आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर प्रदर्शित होती है।

पंजीयन केंद लॉग इन करने की प्रक्रिया

सबसे पहले आपको एमपी ई सुबर्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
अब आपके सामने होमपेज खुल जाएगा।
होमपेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना होगा।
इसके बाद आपको Other Users के अंतर्गत रजिस्ट्रेशन सेंटर लिंक पर क्लिक करना होगा।
जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको जिला, पंजीकरण केंद्र, ऑपरेटर, ओटीपी, पासवर्ड और कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
अब आपको लॉग इन बटन पर क्लिक करना है।
इस तरह आप रजिस्ट्रेशन सेंटर में लॉग इन कर पाएंगे।

MP E Uparjan 2021 मोबाइल ऍप डाउनलोड कैसे करे ?

सबसे पहले आपको मोबाइल के Google Play Store में जाना होगा। उसके बाद आपको यहां “mp e uparjan” लिखकर सर्च करना होगा।
फिर आपको एक उच्च लागत वाला ऐप डाउनलोड और इंस्टॉल करना होगा।
तो खरीफ सहित अन्य सभी फसलों को इस मोबाइल ऐप के माध्यम से पंजीकृत और लाभान्वित किया जा सकता है।
आप ई-प्रोक्योरमेंट पोर्टल पर जाकर और अपना मोबाइल नंबर और एकीकृत आईडी नंबर दर्ज करके मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए एक लिंक भी प्राप्त कर सकते हैं।

किसान पंजीयन आवेदन में अन्य खसरा कैसे जोड़े ?

आपको सबसे पहले ई-प्रोक्योरमेंट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
इस होमपेज पर आपको खरीफ 2020-21 का विकल्प दिखाई देगा। आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा।
इस पेज पर आपको 2020-21 खरीफ संग्रह वर्ष के लिए किसान पंजीकरण आवेदन का लिंक दिखाई देगा। आपको लिंक पर क्लिक करना होगा। लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा। इस पेज पर आपको किसान पंजीकरण आवेदन में अन्य खसरा जोड़ने के लिए यहां क्लिक करने का विकल्प दिखाई देगा।

आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा। लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगले पेज पर एक फॉर्म खुल जाएगा। इस फॉर्म में किसानों की व्यक्तिगत जानकारी, मोबाइल नंबर, किसान का नाम, कुल सदस्य आईडी, किसान की बैंक संबंधी जानकारी जैसी सभी जानकारी भरने की आवश्यकता होती है।
सारी जानकारी भरने के बाद आपको सर्च बटन पर क्लिक करना होगा। इस प्रकार अन्य खसरे को किसान पंजीकरण आवेदन में जोड़ा जाता है।

पावती पर्ची प्राप्त कैसे करे ?

आपको सबसे पहले ई-प्रोक्योरमेंट की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
इस होमपेज पर आपको खरीफ 2020-21 का विकल्प दिखाई देगा। आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा।
फिर आपको 2020-21 के क़रीफ़ संग्रह के लिए किसान पंजीकरण आवेदन का लिंक दिखाई देगा। आपको लिंक पर क्लिक करना होगा। लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा।
इस पेज पर आपको पावती पर्ची प्राप्त करने के लिए एक लिंक दिखाई देगा। आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा।
लिंक पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा। इस पेज पर आपको एक फॉर्म दिखाई देगा जिसमें आपको मांगी गई सभी जानकारी को भरना होगा।
सभी जानकारी भरने के बाद किसान को सर्च बटन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपके पेज पर एक वाउचर मिलेगा, जिसे आप प्रिंट कर सकते हैं।

तहसीलदार लॉगइन करने की प्रक्रिया

सबसे पहले आपको एमपीई अर्निंग्स की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
अब आपके सामने होमपेज खुल जाएगा।
होमपेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना होगा।
अब आपको तहसीलदार के लिंक पर क्लिक करना है।
इसके बाद एक नया पेज खुलेगा, जिसमें आपको जिला और तहसील का चयन करना होगा।
अब आपको पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना है।
इसके बाद आपको लॉग इन बटन पर क्लिक करना है।
इस तरह आप तहसीलदार में लॉग इन कर पाएंगे।

प्रबंधक नाफेड लोगिन करने की प्रक्रिया

सबसे पहले आपको एमपीई अर्निंग्स की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
अब आपके सामने होमपेज खुल जाएगा।
होमपेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना होगा।
अब आपको तहसीलदार के लिंक पर क्लिक करना है।
इसके बाद एक नया पेज खुलेगा, जिसमें आपको जिला और तहसील का चयन करना होगा।
अब आपको पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना है।
इसके बाद आपको लॉग इन बटन पर क्लिक करना है।
इस तरह आप तहसीलदार में लॉग इन कर पाएंगे।

उप संचालक कृषि लॉगिन करने की प्रक्रिया

सबसे पहले आपको एमपीई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
अब आपके सामने होमपेज खुल जाएगा।
होमपेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना होगा।
अब आपको उप कृषि निदेशक के लिंक पर क्लिक करना होगा।
सबसे पहले आपको एमपीई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
अब आपके सामने होमपेज खुल जाएगा।
होमपेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना होगा।
अब आपको उप कृषि निदेशक के लिंक पर क्लिक करना होगा।

सीईओ जिला पंचायत लोगिन करने की प्रक्रिया

सबसे पहले आपको एमपीई सुबर्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
अब आपके सामने होमपेज खुल जाएगा।
होमपेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना होगा।
उसके बाद आपको जिला उपयोगकर्ता के अंतर्गत सीईओ जिला पंचायत लिंक पर क्लिक करना होगा।
अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा और आप अपने जिले का चयन करें।
इसके बाद आपको अपना पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना होगा।
अब आपको लॉग इन बटन पर क्लिक करना है।
इस तरह आप सीईओ जिला पंचायत में लॉग इन कर पाएंगे।

डीआईओ लोगिन करने की प्रक्रिया

सबसे पहले आपको एमपीई उपार्जन की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
अब आपके सामने होमपेज खुल जाएगा।
होमपेज पर आपको रबी 2021-22 के लिंक पर क्लिक करना होगा।
अब आपको DIO के लिंक पर क्लिक करना है।
इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपने जिले का चयन करना होगा।
अब आपको अपना पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना है।
अब आपको लॉग इन बटन पर क्लिक करना है।
इस तरह आप डीआईओ में लॉग इन कर पाएंगे।

सहायता प्राप्त कैसे करे ?

यदि आपको इस ऑनलाइन पोर्टल के लिए आवेदन करने में कोई समस्या है और आप कोई सहायता प्राप्त करना चाहते हैं, तो आप मदद के लिए [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं और अपनी समस्या का समाधान करवा सकते हैं।

Leave a Comment

Delhi Police Head Constable Recruitment 2022 for 857 Posts IBPS Clerk Notification 2022 6035 Posts RRB Group D Recruitment 2022 UP JEE BEd 2022 : Download UP BEd JEE Admit Cards HPSC ADO Recruitment 2022: 700 Vacancies
%d bloggers like this: